एन.सी.सी.में कैडेट बनना

सत्य का मार्ग दिखाने, अनुशासन की शिक्षा लेने,

             कर्तव्य का पालन करने, एन.सी.सी.में कैडेट बनना ।

संस्कृति व सभ्यता को समझने, चरित्र का निर्माण करने,

             साहस का विकास करने, एन.सी.सी.में कैडेट बनना ।

नेतृत्व की क्षमता बढ़ाने, सेवा का भाव जगाने,

            उपयोगी नागरिक बनने, एन.सी.सी.में कैडेट बनना ।

मानव संसाधन निर्मित करने, प्रकृति का संरक्षण करने,

           राष्ट्र की सेवा करने, एन.सी.सी.में कैडेट बनना ।

देश की एकता को बढ़ावा देने, भाईचारे का पाठ पढ़ने,

           सपनों के भारत को सत्य बनाने, एन.सी.सी.में कैडेट बनना ।

सुनिश्चित लक्ष्य हासिल करने, स्वच्छता का प्रचार करने,

          मानव-मूल्य का पहचान करने, एन.सी.सी.में कैडेट बनना ।

सभी धर्मों का आदर करने, अनुशासित और देशभक्त बनने,

          उज्ज्वल भविष्य का निर्माण करने, एन.सी.सी.में कैडेट बनना ।

 

रचयिता :

आर.बाबूराज जैन/ S/O R.BABURAJ JAIN

टी.जी.टी.(हिंदी) &  अतिरिक्त एन.सी.सी. अधिकारी/TGT(HINDI) & ANO

जवाहर नवोदय विद्यालय, कालापेट (पुदुच्चेरी)/ JAWAHAR NAVODAYA VIDYALAYA,KALAPET (PUDUCHERRY)

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s